स्वामी रामदेव के 7 योग डायबिटीज कण्ट्रोल करने के लिए

स्वामी रामदेव के अनुसार रोजाना कुछ योगासन के अभ्यास से और खान पान में कुछ तब्दील करने से डायबिटीज (मधुमेह) को आसानी से दूर किया जा सकता है। इन योगासन के साथ साथ कुछ घरेलू उपचार से भी इस रोग को कम किया जा सकता है। गिलोय, तुलसी, काली मिर्च और अश्वगंधा का काढ़ा पीने से भी डायबिटीज को कण्ट्रोल करने में मदद मिलती है।

स्वामी रामदेव के 7 योग डायबिटीज कण्ट्रोल करने के लिए
pawanmuktasana

रामदेव योग डायबिटीज कण्ट्रोल के लिए-Swami Ramdev yoga for diabetes control in Hindi

मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए योग सबसे अच्छा प्रभावी उपाय है। कुछ योग मुद्राएं जैसे शीर्षासन , प्राणायाम और ध्यान सीधे पिट्यूटरी ग्रंथियों पर काम करते हैं और मास्टर ग्रंथियों को अग्न्याशय के साथ मिलकर काम करने का निर्देश देते हैं। मंडुकासन, वक्रासन, पवनमुक्तासन, नौकासन जैसे कुछ योग सीधे अग्न्याशय के बेहतर स्वास्थ्य के लिए काम करते हैं।

  1. मंडुकासन: इस आसन को करने से अग्न्याशय सही मात्रा में इन्सुलिन का उत्पादन करता है जो मधुमेह को ठीक करने में मददगार है। यह पाचन तंत्र में सुधार करता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है।
  2. वक्रासन: इस आसन पीठ और पेट को स्वस्थ रखने के लिए वरदान है और साथ ही साथ अग्न्याशय को एक्टिव रखने के लिए अहम रोल अदा करता है. रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाता है। यह आपके वजन को भी कण्ट्रोल में रखता है।
  3. उत्तानपादासन: इस आसन के अभ्यास से आप बहुत सारे फायदे पा सकते हैं। यह मधुमेह को कण्ट्रोल करता है और साथ-साथ वजन कम करने एवं कब्ज की समस्या से भी निजात देने में मददगार है।
  4. पवनमुक्तासन: वैसे देखा जाए तो पवनमुक्तासन शरीर से गैस को निकालने में अहम योगदान देता है। यह अग्न्याशय को प्रभावी ढंग से काम करने में सक्षम बनाता है। रीढ़ की हड्डी को मजबूती प्रदान करता है और आपको पेट की चर्बी से राहत दिलाता है। यह ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ाने में मदद करता है।
  5. नौकासन : यह न सिर्फ पेट की चर्बी को हटाता है बल्कि पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में भी मदद करता है। इसके अतिरिक्त पीठ दर्द और गैस की समस्याओं से राहत दिलाता हैं।
  6. सूर्य नमस्कार: सूर्य नमस्कार एक कम्पलीट योग मॉडल है। इसके फायदे जितने भी गिनाए जाएं कम है। ऊर्जा के स्तर में वृद्धि, रक्त परिसंचरण में सुधार, शरीर को लचीला बनाने और त्वचा को प्राकृतिक रूप से चमकदार बनाने सहित शरीर को स्वस्थ रखने में अहम रोल अदा करता है
  7. शीर्षासन: शीर्षासन मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए सबसे अच्छे योगों में से एक है। वास्तव में, यह एकमात्र योग मुद्रा है जो न केवल मधुमेह बल्कि शरीर में हार्मोनल संबंधी सभी समस्याओं को नियंत्रित करने की क्षमता रखता है। शीर्षासन मुद्रा सिर क्षेत्र की ओर रक्त के प्रवाह को बढ़ाती है और शरीर में सभी हार्मोनल परिवर्तनों को नियंत्रित करने के लिए पिट्यूटरी ग्रंथि को उत्तेजित करता है।

 

डायबिटीज का घरेलू उपचार-Swami Ramdev diabetes home remedies in Hindi

  • अगर आप को डायबिटीज से छुटकारा पाना है तो आप प्याज का रस, नींबू का रस, अदरक का रस, लहसुन का रस को अच्छी तरह से मिलाएं और पकाएं भी। अब इसमें शहद मिलाएं और इसको ठंडा होने दें और फिर इसका सेवन करें।
  • करेला, खीरा और टमाटर का जूस हर दिन सेवन करने से मधुमेह में फायदा मिल सकता है।
  • गुलमर्ग जड़ी बूटी के 2-3 पत्ते खाने से भी बहुत हद तक लाभ मिल सकता है
  • जामुन, सिरका और गुठली का सेवन अग्न्याशय में इंसुलिन पैदा करने में सहायक है।
  • शहद भी लाभकारी है।

 

डायबिटीज के लिए प्राणायाम-Swami Ramdev pranayama for Diabetes in Hindi

स्वामी रामदेव के अनुसार डायबिटीज को कण्ट्रोल करने के लिए 4 प्रमुख प्राणायाम बहुत अहम रोल अदा करता है।

  1. कपालभाति
  2. अनुलोम विलोम प्राणायाम
  3. भस्त्रिका प्राणायाम
  4. भारमरी प्राणायाम

Recommended Articles:

Leave a Comment