थायराइड के इलाज के लिए करें योग (Yoga)

योग थायराइड के बचाव एवं इलाज के लिए बहुत अहम भूमिका अदा कर सकता है। योग के माध्यम से थायराइड ग्रंथि का अच्छा खासा मालिश हो जाता है जिससे थायरोक्सिन हॉर्मोन के स्राव होने में मदद मिलती है। अगर प्राकृतिक इलाज की बात की जाए तो योग थायराइड रोग के रोकथाम के लिए उत्तम समाधानों में से एक है। यही नहीं यह शरीर के उपापचय में भी अहम रोले अदा करता है। यहां पर 10 सर्वश्रेष्ठ योग की सूची दिया गया है जो थायराइड के उपचार, रोकथाम और प्रबंधन में फायदेमंद है।matsyasana-for-thyroid

थायराइड के रोकथाम के लिए योग

 

अब बात आती है कि कौन सा योगाभ्यास किया जाए जो थायराइड के लिए वरदान हो। यहां पर योग की सूचि दी जा रही है जो थायराइड के रोकथाम में अहम भूमिका निभा सकता है।

  1. सर्वांगासन
  2. विपरीतकर्णी
  3. हलासन
  4. मत्स्यासन
  5. उष्ट्रासन
  6. सूर्यनमस्कार
  7. सिंहासन
  8. भुजंगासन
  9. सेतुबंध सर्वांगासन
  10. शीर्षासन
  11. धनुरासन
  12. कपोलशक्ति विकाशक
  13. गर्दन के एक्सरसाइजेज
  14. कपालभाति
  15. नाड़ीशोधन प्राणायाम
  16. भस्त्रिका प्राणायाम
  17. उज्जई प्राणायाम
  18. ध्यान

 

थायराइड में भोजन

थाइरोइड में खान पान किस तरह का होना चाहिए, इसका मालूम होना बहुत जरूरी है। यहां पर खाने के कुछ टिप्स बताए गए है जो थायराइड में जरूरी है।

  • उच्च फाइबर वाले आहार लेना चाहिए।
  • वसा और कार्बोहाइड्रेट से बचें।
  • हरी और पत्तेदार सब्जियों पर अधिक से अधिक जोर देना चाहिए।
  • विशेष ध्यान मौसमी फलों पर दी जानी चाहिए।
  • अदरक थायराइड के लिए बहुत फायदेमंद है इसलिए अदरक को चबाएं या इसकी चाय पिये।
  • काले अखरोट में आयोडीन होता है जो थायरॉयड ग्रंथि के पोषण के लिए जरूरी है।
  • दही, मछली, मांस, अंडे, मूली, और दलिया जैसे खाद्य पदार्थों में आयोडीन अच्छी मात्रा में पाया जाता है। इसलिए थायराइड की समस्याओं को नियंत्रित करने के लिए नियमित रूप से इन आहार को लें।
  • गाय का मूत्र भी अच्छा होता है।
  • नारियल का तेल पीने से थायराइड हार्मोन स्राव में सुधार होता है।
  • गाजर, कद्दू, अंकुरित, पालक, गेहूं घास और समुद्री शैवाल ले क्योंकि यह आयोडीन का अच्छा स्रोत है।

 

थायराइड में एहतियात

इन खाद्य पदार्थ को नहीं लेना चाहिए क्योंकि यह थायराइड के लिए एक समस्या है।

  • फूलगोभी, पत्तागोभी और ब्रोकोली से बचें
  • मांसाहारी खाद्य पदार्थ
  • दूध और दूध उत्पादों
  • मसालेदार और फास्ट फूड
  • केला, आम और अंगूर से बचना चाहिए।
  • रिफाइंड और संरक्षित खाद्य पदार्थ

 

थायराइड के कारण

  • थायरॉयड ऊतक की अत्यधिक वृद्धि
  • थायरॉयड ग्रंथि के अनुचित कार्य
  • आयोडीन की कमी
  • थायराइड पुटी
  • थायराइड सूजन
  • थायराइड सर्जरी
  • पिट्यूटरी ग्रंथि को नुकसान

 

थायराइड के लक्षण

  • वजन का बढ़ना
  • डिप्रेशन
  • चिंता
  • गर्दन में सूजन
  • कम ऊर्जा का स्तर
  • बाल झड़ना
  • कब्ज
  • शुष्क त्वचा
  • तेजी से दिल की धड़कन
  • शरीर में दर्द
  • घबराहट
  • जलन
  • थकान
  • मांसपेशियों में दर्द
  • अनियमित अवधि
  • सूजा हुआ चेहरा
  • याददाश्त में कमी

Recommended Articles:

Leave a Reply