Polycystic Ovarian Syndrome (PCOS) से बचने के लिए करें योग

Polycystic ovarian syndrome meaning in Hindi

 

आज कल Polycystic ovarian syndrome (PCOS) महिलाओं में अच्छा खास देखा जाता है। यह महिलाओं के अंडासय में एक ऐसी विकार है जिसके कारण अंडासय में छोटा छोटा अल्सर होने लगता है जिससे महिलाओं में प्रजनन, मनोवैज्ञानिक एवं हार्मोनल असंतुलन पैदा हो जाता है। इसमें पुरुष हॉर्मोन टेस्टोस्टेरोन की अधिकता हो जाती जिसके कारण बाल झड़ना, बांझपन, वजन बढ़ना, अनियमित मासिक धर्म की शिकायत देखी जाती है।bhujangasan-for-pcod

 

PCOS के कारण – PCOS causes in Hindi

Polycystic ovarian disorder के बहुत सारे कारण है लेकिन सबसे प्रमुख वजह तनाव है। PCOS के कुछ महत्वपूर्ण कारणों का यहाँ जिक्र किया जा रहा है।

  • तनाव (यह सबसे घातक कारण है PCOS के लिए)
  • उच्च महत्वकांक्षा
  • परेशानी
  • चिंता
  • डिप्रेशन

 

PCOD के लक्षण – PCOD symptoms in Hindi

  • अनियमित मासिक धर्म
  • अंडासय में cysts
  • चेहरे पर दाने का निकलना
  • बालों का झड़ना
  • मन का बदलते रहना
  • वजन का बढ़ना
  • चेहरे पर बालों का उगना

 

योग PCOS के समाधान के लिए – PCOS yoga in Hindi

योग PCOS की रोकथाम और प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। योग पूरी तरह से तनाव को जड़ से उखाड़ फ़ेंक सकता है। आसन, प्राणायाम और ध्यान तनाव के लिए प्रभावी है। योग हार्मोन के संतुलन में लाभकारी और शरीर में अंत: स्रावी ग्रंथियों को विनियमित करने में मदद करता है।
PCOD के लिए कुछ महत्वपूर्ण योग आसन नीचे दिए गए हैं।

  1. शीर्षासन
  2. सर्वांगासन
  3. भद्रासन (बटरफ्लाई)
  4. सूर्यनमस्कार
  5. भुजंगासन
  6. नौकासन
  7. धनुरासन
  8. वारियर पोज़
  9. सुप्त बदकोनसन
  10. भारद्वाजासन
  11. कपालभाति
  12. नाड़ीशोधन प्राणायाम
  13. भ्रामरी प्राणायाम
  14. ध्यान

 

PCOD के लिए आहार – PCOD diet in Hindi

  • अगर आप PCOS से हैं परेशान तो आपको ताजा सब्जियों और प्रोटीन पर ध्यान देना चाहिए।
  • ताजे फल और प्राकृतिक आधारित खाद्य पदार्थों का सेवन करें।
  • अच्छी वसा का सेवन करें।
  • संतुलित और स्वस्थ आहार लें।
  • पर्याप्त फाइबर लें।
  • अधिक मीठा और कार्बोहाइड्रेट खाद्य पदार्थों से बचें।
  • आपके खाने पीने में saturated foods की मात्रा कम होनी चाहिए।
  • विटामिन बी -6, बी 2, बी 3, बी 5 और बी -6 पर ध्यान दें।
  • वैसे खाद्य पदार्थों पर ध्यान दें जिसमें आवश्यक फैटी एसिड हो।
  • पानी की पर्याप्त मात्रा में सेवन करें।
  • दूध और दूध उत्पादों से बचें।
  • कॉफी और शराब से बचें।

Recommended Articles:

Share on:

3 thoughts on “Polycystic Ovarian Syndrome (PCOS) से बचने के लिए करें योग”

  1. Hello there, You’ve done an excellent job. I’ll certainly digg it and personally suggest to my friends.
    I am confident they will be benefited from this website.

    Reply

Leave a Comment