योग में करियर की आपार संभावनाएं । Career in Yoga

आप 12 वी क्लास के बाद योग में अपना करियर शुरू कर सकते हैं। योग जीवन शैली से संबंधित विकारों और मनोदैहिक रोगों के इलाज और रोकथाम में अहम रोल अदा करता है जिसके कारण पूरी दुनिया में इसकी मांग है। योग में डिप्लोमा करने के बाद योग टीचर अच्छा खासा  कमाने में सक्षम हो जाते हैं।

योग की डिग्री प्राप्त करने के बाद आपके पास करियर के बहुत सारे रास्ते खुल जाते हैं।  आपको जानकार यह ताज्जुब होगा की  भारत के लगभग सभी दूतावास में योग प्रशिक्षक काम कर रहे हैं और अच्छा वेतन भी ले रहे हैं। 21 जून को योग दिवस घोषित  होने के बाद योग प्रशिक्षक और योग शिक्षक के करियर का अवसर कई गुना बढ़ गया है । कई लोग योग चिकित्सा के लिए योग प्रशिक्षक की मांग करते हैं, जहां योग विशिष्ट रोगों पर केंद्रित है।

योग में करियर की आपार संभावनाएं
योग में करियर

 

योग में करियर की संभावनाएं – Career opportunity in Yoga in Hindi

जीवनशैली से संबंधित बिमारियों को कम करने के लिए योग की योगदान किसी से छिफा नहीं है। योग अपनी प्रभावशीलत के कारण दुनिया भर में जाना जाता है और दूसरी तरफ अच्छी बात यह है की इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं दिखता। योग और योग चिकित्सा अनुसंधान, अकादमिक, प्रबंधन, प्रशासन, अस्पताल, स्वास्थ्य रिसॉर्ट्स आदि के क्षेत्र में नौकरियो के कई अवसर खोलता है। सरकारें प्राय हर स्कूल में योग प्रशिक्षक रखना अनिवार्य कर दिया है। उच्च शिक्षा पूरी करने के बाद, कोई भी सरकारी अस्पतालों, डिस्पेंसरियों, स्वास्थ्य रिसॉर्ट्स, निजी अस्पतालों, शिक्षण नौकरियों आदि में अपने करियर योग से बेहतर कर सकता है। निजी क्षेत्र भी आकर्षक नौकरी के ऑफर के साथ योग टीचर को काम पर रख रहा है ।

 

योग कोर्सेज और पाठ्यक्रम – Yoga Courses in Hindi

कई सरकारी और निजी कॉलेज, संस्थान और विश्वविद्यालय डिप्लोमा, बीए, B.Sc, एमए, एमएससी, .एम फिल और पीएचडी में योग कोर्स करा रहे हैं। B.Sc में दाखिला लेने के लिए जरूरी है आपको 12 वी पास होना।  B.Sc या बीए करने के बाद कोई भी व्यक्ति क्रमश M.Sc या एमए में एडमिशन ले सकता है। स्नातकोत्तर सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद कोई भी एमफिल और पीएचडी में उच्च अध्ययन कर सकता है ।

 

योग में रोजगार – Yoga employment in Hindi

योग प्रोफेशनल निम्नलिखित विषयों में अपना करियर बना सकते हैं।

  • शैक्षिक
  • शोध
  • प्रबंधन और प्रशासन
  • अस्पताल और हेल्थकेयर प्रशासन
  • स्वास्थ्य पर्यवेक्षक
  • प्रशिक्षक, विशेषज्ञ, विशेषज्ञ आदि के रूप में योग परामर्श।

 

योग में नौकरियां-Jobs in Yoga in Hindi

योग पेशेवरों के लिए सरकार के साथ-साथ निजी क्षेत्रों में नौकरियों के कई विकल्प उपलब्ध हैं। सरकारें अपने विभिन्न संगठनों के लिए ऐसे पेशेवरों को काम पर रख रही हैं। सरकार के पास अपने अनुसंधान केंद्रों, राष्ट्रीय संस्थानों और विभिन्न स्वास्थ्य विभागों में निम्नलिखित अधिकारी हैं ।

  • निर्देशक
  • उपनिदेशक
  • कार्यक्रम अधिकारी
  • सहायक निदेशक
  • अनुसंधान अधिकारी
  • सहायक अनुसंधान अधिकारी
  • योग सलाहकार
  • प्रकाशन अधिकारी (योग)
  • योग विशेषज्ञ
  • योग प्रशिक्षक
  • चिकित्सक
  • प्रशिक्षक
  • योग प्रबंधक आदि।

योग में शिक्षण नौकरियां

  • प्राध्यापक
  • एसोसिएट प्रोफेसर
  • असिस्टेंट प्रोफेसर
  • शिक्षक

 

 योग में नौकरी का अवसर- Yoga recruiters in Hindi

योग टीचर का रिक्रूटमेंट

सरकार के साथ-साथ निजी क्षेत्रों द्वारा योग शिक्षकों की भर्ती की जाती है। मुख्य रिक्रूटर्स निम्नलिखित हैं:

  • राष्ट्रीय संस्थान यानी एमडीएनवाई,NIN, CCRYN
  • राज्य अनुसंधान केंद्र
  • सरकारी अस्पताल
  • औषधालयों
  • योग और प्राकृतिक चिकित्सा अस्पताल
  • योग स्वास्थ्य केंद्र
  • स्पा
  • रिसॉर्ट्स
  • बीपीओ
  • केपीओ

 

योग प्रशिक्षकों का वेतन- Yoga teacher salary in Hindi

योग पेशेवरों में पारिश्रमिक विशेषज्ञता और अनुभवों पर निर्भर करता है। योग्य उम्मीदवार के लिए वेतन की सीमा नहीं है। विदेश में योग प्रोफेशनल्स के लिए बड़ा मौका है। कमोबेश दुनिया के सभी देश स्वास्थ्य क्षेत्र में योग चिकित्सा की प्रासंगिकता और महत्व को ध्यान में रखते हुए योग विशेषज्ञों को काम पर रख रहे हैं । शुरुआती स्तर पर योग प्रशिक्षक मासिक आधार पर 15 -25 हजार रुपये कमा सकते हैं। निजी क्षेत्र में योग पेशेवरों की काफी मांग है क्योंकि ऐसे संगठनों में तनाव का स्तर काफी अधिक है। योग्य उम्मीदवार के लिए प्रति माह एक लाख रुपये तक की कमाई कर सकता है। न केवल भारत में बल्कि दुनिया भर में योग के प्रति उत्साही लोगों के लिए रोजगार के कई अवसर उपलब्ध हैं। इससे क्षेत्र की प्रासंगिकता बहुत बढ़ जाती है, जो 12 के बाद बड़ी संख्या में छात्रों को योग शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिए मजबूर करता है।  यह क्षेत्र शिक्षण में आकर्षक विकल्प प्रदान करता है यदि कोई योग में उच्च शिक्षा का अनुसरण करता है यानी एमए, M.Sc, एमफिल और पीएचडी । ग्लोबलाइजेशन के दौर में टेक्नो-स्ट्रेस को कम करने के लिए योग प्रोफेशनल्स की भारी डिमांड बनी है। योग प्रशिक्षकों, पेशेवरों, विशेषज्ञों और विशेषज्ञों के पास निदेशक, उपनिदेशक, कार्यक्रम अधिकारी, सहायक निदेशक, अनुसंधान अधिकारी, सहायक अनुसंधान अधिकारी, सलाहकार, योग प्रशिक्षक, योग विशेषज्ञ, सार्वजनिक क्षेत्र में योग पेशेवरों के रूप में नौकरी के विकल्प हैं ।

Recommended Articles:

Leave a Comment