हल्दी के औषधीय फायदे और नुकसान

हल्दी क्यों खानी चाहिए? Why eating of Haldi is must in Hindi

हल्दी की फायदे, लाभ और गुणकारी पहलों की जितनी भी तारीफ की जाए कम है। यहां पर हल्दी के कुछ अद्धभुत गुणों के बारे में बताया जा रहा है जिसका अनुसरण करने से आप बहुत सारी बीमारियों से बच सकते हैं। इसके गुणकारी लाभों के कारण ही प्राय सभी लोग रोजाना भोजन में इसका सेवन करते हैं। यहां पर हम लोग हल्दी के 10 अहम फायदे के बारे में चर्चा करेंगे।

हल्दी के औषधीय फायदे और नुकसान Medicinal Benefits and Side Effects of Turmeric
Turmeric

हल्दी के 10 अहम फायदे Benefits of Haldi in Hindi

  1. इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक: सर्दी, खांसी, और नेज़ल कंजेस्शन जैसी बीमारियों के घरेलू उपचार के रूप में हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है। इसके रेगुलर सेवन शरीर की प्रतिरक्षा को मजबूत करता है। खासकर covid 19 में इसका रोल बहुत अहम हो जाता है। covid 19 जैसे पैंडेमिक में हल्दी का इस्तेम्मल काढ़ा के रूप में बहुत कारगर है। आयुष मंत्रालय ने बहुत बढ़ चढ़ कर इसके बाड़े में बताया है।
  2. स्किन ग्लो में सहायक: हल्दी का लेप आपके स्किन को चार चाँद लगा सकता है। शादियों में विशेष रूप से दूल्हा और दुल्हन को इसका लेप लगाया जाता है जिससे चेहरा खिल उठे। पिंपल्स और झुर्रियों को नियंत्रित करने के लिए नींबू के रस के साथ हल्दी के पेस्ट को प्रभावी माना जाता है। हल्दी का इस्तेमाल से त्वचा एलर्जी और स्किन इरिटेशन की समस्या को भी कम किया जा सकता है।
  3. अल्जाइमर बीमारी में सहायक: अल्जाइमर की समस्या बुजुर्गों में देखने को मिलती है जहाँ पर बढ़ती उम्र के साथ याददाश्त कमजोर होने लगती है। ऐसे समस्या में हल्दी का इस्तेमाल रामबाण साबित हो सकता है। नेशनल सेंटर फॉर कांप्लीमेंट्री एंड इंटीग्रेटिव हेल्थ के द्वारा एक अध्यन किया गया है जहाँ पर यह पाया गया है की हल्दी का सेवन अल्जाइमर बीमारी में बहुत कारगर है क्योंकि इसमें करक्यूमिन नामक एक बायोकैमिकल पदार्थ पाया जाता है जो याददास्ता को बनाए रखने में मददगार है।
  4. अनिद्रा में लाभकारी: अगर आप नींद की समस्या से झूझ रहें हैं तो हल्दी का उपयोग अत्यधिक लाभकारी है। हल्दी का सेवन से शरीर के मेलाटोनिन नामक हार्मोन को बढ़ाया जा सकता है। अगर सोने के पहले हल्दी पानी पिया जाए तो नींद न आने की समस्या को बहुत हद तक सुलझाया जा सकता है। इसके रेगुलर सेवन से अनिद्रा की समस्या हमेशा हमेशा के लिए ख़त्म किया जा सकता है।
  5. घुटनों के दर्द में कारगर: हल्दी पेन किलर के रूप में मशहूर है। यह पुरे शरीर से दर्द को कम करने में अहम रोल अदा करता है। अगर आप घुटनों की बीमारी से पीड़ित हैं तो हल्दी का सेवन जरूर करें या इसको अपने घुटने पर लगाएं।
  6. ओरल हेल्थ में लाभदायक: ओरल हेल्थ को लेकर लगभग सब कोई किसी न किसी रूप में परेशान है। हल्दी में एंटी बैक्टीरियल गुण पाया जाता है जो मुँह की बदबू को कम करता है और साथ ही साथ मुहं से जुड़ी हुई अन्य बीमारियों को भी कम करता है।
  7. कैंसर को रोकने में सहायक: हल्दी में एंटी कैंसर पदार्थ पाया जाता है इसलिए इसको अपने डायट में जरूर शामिल करें। कई जानवरों के अध्ययनों में यह पाया गया है की हल्दी कैंसर के गठन और विकास को प्रभावित कर सकता है। शोध से यह भी पता चला है कि हल्दी कैंसर के प्रसार को कम कर सकता है और कैंसर कोशिकाओं को मारने की भी क्षमता रखता है।
  8. लिवर हेल्थ: हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट का भरपूर मात्रा पाया जाता है जो आपके लीवर को टॉक्सिन्स से क्षतिग्रस्त होने से रोकता है। खासकर यह उन लोगो के लिए बहुत लाभकारी है जो डायबिटीज की मेडिसिन लेते हैं क्योंकि ऐसी दवाओं से आपके लिवर तो क्षति हो सकती है।
  9. डायबिटीज का खतरा कम: हल्दी का सेवन करने से डायबिटीज का खतरा कम हो जाता है। जो लोग डायबिटीज से पीड़ित हैं उनके लिए भी हल्दी का सेवन बहुत लाभकारी है ।
  10. एंटी एजिंग प्रभाव: हल्दी में करक्यूमिन नामक एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो नई कोशिकाओं की क्षति को रोकता हैं और इस तरह बुढ़ापे की गति को को धीमा कर देता हैं। इसके सेवन से शरीर में होने वाली झुर्रियों के गठन को प्रभावी रूप से रोका जा सकता है। इसके इलावे करक्यूमिन नए सेल विकास को भी बढ़ावा देता है।

 

हल्दी के नुकसान Side effects of Haldi in Hindi

हल्दी की जितनी भी तारीफ की जाए कम है लेकिन इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी है।

  • हल्दी का ज़्यदा इस्तेमाल करने से पेट ख़राब होने की शंका बढ़ जाती है।
  • हल्दी गर्म होता है इसलिए गर्भवती और स्तनपान करने वाली महिलाओं को इसका सेवन सीमित मात्रा मैं करनी चाहिए।
  • हल्दी ब्लड थिइनिंग के लिए जाना जाता है। इसलिए जो लोग Anticoagulants and antiplatelet दवाएं ले रहे है उनकों इसका सेवन डॉक्टर के सलाह के बाद ही लेना चाहिए।
  • जो लोग कीमोथेरेपी करवा रहे हैं उनको इसके सेवन से बचना चाहिए।
  • इसकी ज़्यदा मात्रा में लेने से दस्त और उल्टी की संभावना बढ़ जाती है।
  • पीलिया होने पर हल्दी खाना घातक हो सकता है।
  • जिनको डायबिटीज है उन्हें हल्दी का प्रयोग बहुत सावधानी से करना चाहिए क्योंकि इसका सेवन ब्लड शुगर को बहुत कम कर सकता है।
  • हल्दी शुक्राणुओं फार्मेशन को कम कर सकता है।

Recommended Articles:

Share on:

Leave a Comment