तरबूज के फायदे ही फायदे

तरबूज एक ऐसा फल है जिसके फायदे के जितनी भी तारीफ की जाए कम है। गर्मी के दिनों में शायद ही ऐसा कोई घर हो जहाँ तरबूज न लाया जाता हो। इस सीजन में बहुत चाव से लोग इसका सेवन करते हैं। चूकिं तरबूज कई गुणों का भण्डार है, यहाँ पर हम इसके कुछ अहम फायदे के बारे में जिक्र करेंगे।

तरबूज के फायदे ही फायदे -10 wonder benefits of Watermelon in Hindi
watermelon

तरबूज के 10 अहम फायदे -10 wonder benefits of Watermelon in Hindi

  1. तरबूज वजन घटाने में सहायक है। इसमें सिट्रुलिन पाया जाता है जो वजन को कम करने में सहायक है। इसका सेवन चर्बी को जमने से भी रोकता है।
  2. तरबूज चेहरे के चमक में अहम भूमिका अदा करता है। इसमें लाइकोपिन नमक रसायन पाया जाता है जो चेहरे के चमक को बढ़ाता है।
  3. तरबूज आपके के ह्रदय के लिए बहुत लाभकारी है। यह शरीर से कोलेस्ट्रॉल कम करता है और इस तरह ब्लड प्रेशर को काम करते हुए दूसरे बिमारियों से भी आपको सावधान रखता है।
  4. इसमें विटामिन की प्रचुर मात्रा पाया जाता है जो आपके इम्युनिटी को बढ़ाते हुए बहुत सारे वायरल बीमारियों से बचाता है।
  5. तरबूज की तासीर ठंडा होता है। इस तरह से यह आपके दिमाग को कूल रखते हुए गुस्सा को कम करने में बड़ी भूमिका निभाता है।
  6. तरबूज के बीज भी फायदे में कम नहीं है। इसको अगर पीस कर चेहरे पर लगाया जाए तो स्किन में निखार आता है।
  7. तरबूज में 90% पानी होता है जो शरीर को हाइड्रेट रखता है। साथ ही साथ इसमें re-hydrate salts जैसे कैल्शियम, मैग्नीशियम, सोडियम और पोटैशियम होता है।
  8. प्रेगनेंसी के दौरान एसिडिटी और जलन प्राय देखा जाता है। चूकिं तरबूज की तासीर ठंड होती है जिसके कारण इन समस्याओं से निपटा जा सकता है। यह कब्ज को दूर करने में भी सहायक है।
  9. इस फल में पोटैशियम पाया जाता है जो ह्रदय के लिए बहुत लाभकारी है। इसके इलावे इसमें सिट्रुलिन और आर्जिनिन भी पाया जाता है जो आर्टरी में ब्लड फ्लो को नियंत्रित करता है।
  10. पाचन में अहम भूमिका निभाता है। तरबूज में पानी बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है जो भोजन पचाने में सहायक है और साथ ही साथ इसमें फाइबर भी पाया जाता है, जो पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के सहयोग करता है।


तरबूज के नुकसान -Side effects of watermelon in Hindi

तरबूज नुकसान तब करता है जब इसका सेवन ज्यादा मात्रा में किया जाता है।

• ज्यादा तरबूज खाने से लूज़ मोशन हो सकता है।
• इसका सेवन अधिक करने से मांसपेशिओं और ह्रदय की बीमारी हो सकती है।
• प्रेगनेंसी के दौरान अधिक मात्रा में सेवन करने से डायबिटीज की संभावना बढ़ जाती है।
• इसमें लिकोपेन होता है। अधिक सेवन करने से दस्त और गैस की संभावना बढ़ जाती है।
• इसमें शुगर बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है। इसलिय जो लोग इन्सुलिन लेते हैं उनको बहुत ध्यानपूर्वक खाना चाहिए।
• जिनको अस्थमा की शिकायत हो उन्हें बहुत सावधानी के साथ तरबूज खानी चाहिए।
• इसका सेवन एलर्जी का भी कारण बन सकता है


तरबूज का उपयोग -Medicinal uses of watermelon in Hindi

  • मांसपेशियों के दर्द कम करने में
  • प्रतिरोधक क्षमता बढाने में

  • किडनी को स्वस्थ रखने में

  • आखों की रौशनी बनाये रखने में

  • हीट स्ट्रोक से बचने में

  • हड्डी को मजबूत बनाने में

  • मसूड़ों के लिए लाभदायक

  • दर्द, जलन और सूजन में लाभदायक

  • ऊर्जा को बनाये रखने में

  • बालों को खूबसूरत बनाने में

  • तनाव को कम करने में भी सहायक


तरबूज का पोषक तत्व -Nutritional value of watermelon in Hindi

तरबूज के 100 ग्राम में निम्नलिखित पोषक तत्व पाया जाता है। पानी: 91.45 ग्राम, ऊर्जा : 30 kcal, प्रोटीन : 0.61ग्राम, फैट: 0.15 ग्राम, कार्बोहाइड्रेट: 7.55 ग्राम, डाइटरी फाइबर: 0.4 ग्राम, शुगर : 6.20 ग्राम, कैल्शियम: 7 मिलीग्राम, आयरन : 0.24 मिलीग्राम, मैग्नीशियम : 10 मिलीग्राम, फास्फोरस: 11मिलीग्राम , पोटैशियम : 112 मिलीग्राम, सोडियम : 1 मिलीग्राम, जिंक 0.10 मिलीग्राम, विटामिन सी : 8.1 मिलीग्राम, थायमिन : 0.033 मिलीग्राम, राइबोफ्लेविन 0.021 मिलीग्राम, नियासिन 0.178 मिलीग्राम, विटामिन बी -6 0.045 मिलीग्राम, विटामिन ए : 28 µg, विटामिन ई : 0.05 मिलीग्राम, विटामिन के : 0.1 µg, इत्यादि

 

तरबूज के नाम विभिन्य भाषाओँ में -Watermelon names in different languages in Hindi 

  • हिंदी: तरबूज, तरबूजा

  • इंग्लिश: वाटर मेलन

  • संस्कृत: कालिन्द, तरंबूजा

  • उर्दू: तरबूज

  • गुजराती: तड़बूज, तरबुच

  • तमिल: कोंमाट्टि, पुल्लुम

  • तेलगु: पुञ्चकाया, तरबूं

  • बंगाली: तरमुज, कालिन्गढ़,

  • नेपाली: तर्बुजा

  • पंजाबी: हिंडवाना, माथिरा

  • मराठी: कलिगड, करिंग

  • अरेबिक: बतिख हिन्दी , जकी

  • पर्शियन: हिन्दबाना

Recommended Articles:

Share on:

Leave a Comment