मकरासन योग विधि, लाभ और सावधानी

मकरासन क्या है ?

संस्कृत में मकर का अर्थ मगरमच्छ होता है। इस आसन में शरीर मगरमच्छ के समान दिखता है इसलिए इसको मकरासन का नाम दिया गया है। अगर इस योगाभ्यास को सही रूप में किया जाए तो इसके बहुत सारे फायदे हैं। मकरासन कमर एवं मेरुदण्ड (Spine) के लिए एक बहुत ही उम्दा योगाभ्यास है और आपके डिप्रेशन को कम करने के लिए एक अहम भूमिका निभाता है। इसे Crocodile Yoga Pose भी कहते हैं।Makrasana in Hindi

 

मकरासन की विधि

इस आसन को करने का तरीका बहुत आसान है। यहाँ पर इसके सरल विधि को दर्शाया गया है।

तरीका

  • पेट के बल लेट जाएं, ठोड़ी (Chin), छाती एवं पेट जमीन से स्पर्श होते रहें।
  • पैरों के बीच में अपने योग मैट के बराबर दुरी बनाएं।
  • अब आप सिर को उठाएं और दोनों हाथों को गाल पर लाते हुए कप का आकार बनाएं।
  • धीरे धीरे दोनों पैरों को नीचे से ऊपर अपने हिप्स की ओर लेकर आएं  और फिर धीरे धीरे नीचे लेकर जाएं।
  • यह एक चक्र हुआ।
  • इस तरह से आप दस चक्र करें।

 

मकरासन के लाभ

वैसे तो इस आसन के बहुत सारे लाभ है लेकिन यहां पर इसके कुछ महत्वपूर्ण फायदे बारे में जिक्र किया जा रहा है।

  1. रीढ़ की हड्डी के लिए: यह रीढ़ की हड्डी के लिए अतिउत्तम योगाभ्यास है। यह पुरे मेरुदण्ड को स्वस्थ रखते हुए
  2. कमर दर्द: कमर दर्द के लिए यह बेहतरीन योगाभ्यास है। इसका नियमित अभ्यास से आप हमेशा हमेशा के लिए कमर दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।
  3. डिप्रेशन के लिए: इस आसन के अभ्यास से आप डिप्रेशन में बहुत हद तक काबू  पा सकते हैं।
  4. थकावट दूर करने के लिए: यह थकावट को दूर करने में बहुत लाभप्रद है।
  5. दमा में: इसके अभ्यास से आप अपने फेफड़े की क्षमता को बढ़ा सकते हैं और साथ ही साथ अस्थमा ।
  6. अपच: यह अपच को दूर करने में मदद करता है तथा पाचनतंत्र  को ठीक रखता है।
  7. वात  रोग में : यह वात रोगियों के लिए एक अच्छा योगाभ्यास है।
  8. मानसिक रोग: यह मानसिक रोगियों के लिए एक बेहतरीन योगाभ्यास है।
  9. कंधे के अकड़न में सहायक: इससे आप अपने कंधे के अकड़न को कम कर सकते हैं।
  10. उच्च रक्तचाप: यह उच्च रक्तचाप में लाभप्रद है।
  11. स्लिप डिस्क: स्लिप डिस्क  के रोगियों के लिए एक उत्तम योगाभ्यास है।
  12. नींद के लिए: इस योग को सही तरीके से करने से आप नींद की समस्या से दूर हो सकते हैं।
  13. रक्त के संचार: शरीर में रक्त संचार को बढाता हैं|
  14. घुटनों: यह घुटनों के लिए लाभदायक है।

 

मकरासन की सावधानियां

  • कमर दर्द: अधिक कमर दर्द होने पर इस आसन का अभ्यास नहीं करनी चाहिए।
  • हर्निया: हर्निया की बीमारी में इस आसन को न करे।

 

 

Recommended Articles:

Leave a Reply